श्रीकृष्णलीला तरंगिणी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

श्रीकृष्णलीला तरंगिणी नारायण तीर्थ द्वारा रचित एक तरंगिणी (Sanskrit opera) है।[1][2] तरंगिणी, नृत्य नाटिका के लिये अत्यन्त उपयुक्त होती है और इसीलिये पिछली दो शताब्दियों से भारतीय शास्त्रीय नृतक कृष्णलीला तरंगिणी का उपयोग बहुत अच्छी प्रकार से करते आ रहे हैं।

इस तरंगिणी में १२ तरंगम, १५३ गीत, ३०२ श्लोक तथा ३१ चूर्णिका हैं। नारायण तीर्थ ने वेद व्यास के भागवतम् का अनुसरण किया है तथा दशम स्कन्द पर विशेष रूप से केन्द्रित किया है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Krishna Leela Tharangini competition". The Hindu. अभिगमन तिथि 9 February 2012.
  2. G. Srinivasan. "Musical programmes pervade Gokulashtami celebrations". The Hindu. अभिगमन तिथि 9 February 2012.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]